गुप्तचर विशेषछत्तीसगढ़

नक्सल प्रभावित क्षेत्रों में पुलिस की अनोखी पहल, निरक्षर जवानों को पढ़ाने थाने में लग रही क्लास

सुकमा। छत्तीसगढ़ के घोर नक्सल प्रभावित बस्तर के सुकमा जिले में अनोखी पहल जारी है। सुकमा के मरईगुड़ा थाना में निरक्षर जवानों को शिक्षा से जोड़ने के लिए अभिनव पहल की जा रही है। जवानों की पढ़ाई थाने में ही क्लास लगाकर कराई जा रही है। एसपी सलभ सिन्हा, एएसपी सुनील शर्मा, एसडीओपी पंकज पटेल और मरईगुड़ा थाना प्रभारी संदीप टोप्पो के अथक प्रयास से यह सार्थक पहल की जा रही है।

जानकारी के अनुसार एसडीओपी पंकज पटेल और मरईगुड़ा थाना प्रभारी संदीप टोप्पो की पत्नी निस्वार्थ भाव से अभियान को सार्थक बनाने के लिए लगातार पुलिस और फ़ोर्स के जवानों को शिक्षित बनाने की जिम्मेदारी संभाली है।

Classes in police station
Classes in police station

ज्ञात हो इससे पहले एक महीना तक थाना मरईगुड़ा के प्रभारी और सीआरपीएफ 217 के संयुक्त तत्वाधान से सुकमा के अति संवेदनशील ग्रामीण इलाकों में महिलाओं को टेलरिंग और सिलाई प्रशिक्षण कराया गया था जिसमे पुलिस को ग्रामीणों की रचनात्मक पहलू देखने को मिली है। इसके अलावा भी ग्रामीण युवाओं को वाहन चालन की ट्रेनिंग कराइ गई है और थाना मरईगुड़ा उन सभी युवकों का ड्राइविंग लाइसेंस भी बनाकर दिया है।

नक्सल प्रभावित इलाकों में लगातार चलाये जा रहे अनेक अभियान से न केवल ग्रामीण बल्कि इनामी नक्सली भी प्रभावित हो रहे है और मुख्यधारा में जुड़ रहे हैं। कोरोना अड़चन में भी बिना डरे और रुके पुलिस लगातार दिन- रात कार्य कर छत्तीसगढ़ से नक्सल ख़त्म करने में जुटा हुआ है।

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Back to top button