छत्तीसगढ़बिग ब्रेकिंगवारदात

रायपुर : चलती कार में नाबालिग से गैंगरेप, बॉयफ्रेंड ने दो दोस्तों के साथ मिलकर दिया वारदात को अंजाम

रायपुर। छत्तीसगढ़ में अपराध का ग्राफ बढ़ते ही जा रहा है। एक नया मामला राजधानी से सामने आई है। रायपुर के गुढ़ियारी में चलती कार में गैंगरेप का मामला घटना के चार दिन बाद प्रकाश में आया है। बताया जा रहा है कि बॉयफ्रेंड और उसके दोस्तों ने मिलकर 14 साल की किशोरी के साथ गैंगरेप की वारदात को अंजाम दिया। इस मामले में तीन आरोपियों पर गैंगरेप का मामला दर्ज किया गया है। फिलहाल पुलिस आरोपियों की तलाश कर रही है।

क्या है पूरा मामला
जानकारी के अनुसार घटना गुढ़ियारी थाना क्षेत्र में 17 नवंबर की है। घटना के चार दिन बाद पीड़िता के परिजन ने गुढ़ियारी थाने में शिकायत की। कहा जा रहा है नाबालिग ने डर की वजह से परिजनों को जानकारी नहीं दी थी। आज जब इस मामले में पीड़िता ने परिजनों को बताया तो परिजनों ने थाने पहुंचकर अपराध दर्ज कराया है।

गुढ़ियारी टीआई रवि तिवारी ने बताया की गुढ़ियारी के जनता कॉलोनी में रहने वाले हिमांशु गुप्ता और उसके दो अन्य साथियों ने घटना को अंजाम दिया है। आरोपी हिमांशु ने 17 नवम्बर की रात पीड़िता को फ़ोन कर घूमने जाने के लिए बुलाया था। किशोरी को जरा भी अंदाजा नहीं था कि उसके दोस्त के क्या इरादे है इसके बाद तीन लोगों ने मिलकर दुष्कर्म किया।

फ़ोन पर कही कार में घूमने की बात
17 नवंबर को सुबह करीब 3 बजे लड़की को उसके बॉयफ्रेंड ने फोन कर घूमने चलने को कहा और उसके लिए कार लेकर आने की बात कही। घूमने की बात पर नाबालिग उसके साथ जाने को राजी हो गयी। किशोरी जब वहां पहुंची तो कार में पहले से ही लड़के के दो और दोस्त मौजूद थे। आरोप है कि लड़की के साथ कार में ही उसके बॉयफ्रेंड और फिर उसके दो और दोस्तों ने बारी-बारी से गैंगरेप किया।

रेप के बाद दी जान से मरने की धमकी
करीब चार घंटे तक लड़की को कार में ही युवक घुमाते रहे। सुबह करीब 7 बजे रास्ते में लड़की को बदहवास हाल में उतार दिया और धमकी दी कि अगर किसी को बताया तो उसे जान से मार दिया जायेगा।घटना के चार दिनों बाद किसी तरह से पीड़िता ने इसकी जानकारी अपने परिजनों को दी है, जिसके बाद परिजन पीड़िता के साथ गुढ़ियारी थाना पहुंच कर शिकायत दर्ज कराया है।पुलिस आरोपियों की तलाश कर रही है।

 

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Back to top button