गुप्तचर विशेषबिग ब्रेकिंगभारत

धर्मेंद्र ने चाँद पर खरीदी जमीन, सालहिरह पर पत्नी को दिया सरपराइज

ये अक्सर देखने को मिलता है कि पति अपनी पत्नी को खुश करने के लिए महंगे गिफ्ट देतें हैं। अगर बात सालगिरह (anniversary) की हो तो पति पूरी कोशिश करता है की पत्नी खुश हो जाये। लेकिन अपने ऐसा शायद ही सुना होगा की कोई हसबैंड अपनी वाइफ (Wife) को चाँद पर जमीन गिफ्ट कर दें। यकीन करना थोड़ा मुश्किल है लेकिन अजमेर में रहने वाली सपना अनीज के पति धर्मेंद्र ने ऐसा करके दिखाया है।

उन्होंने चाँद (Moon) पर 3 एकड़ जमीं खरीदी है और उसे अपनी पत्नी को सालगिरह पर गिफ्ट भी कर दिया है। ऐसा करने वाले वो राजस्थान प्रदेश के पहले व्यक्ति भी बन गए है। इस खबर के सामने आने के बाद सोशल मीडिया में लोग धर्मेंद्र और उनकी पत्नी सपना को बधाई दे रहे हैं।

theguptchar

इस बारें में धर्मेंद्र से बात करने पर वे बताते है कि, ’24 दिसंबर को हमारी शादी की सालगिरह थी। मैं उनके लिए कुछ खास करना चाहता था। हर कोई कार और ज्वैलरी जैसी चीजें गिफ्ट करता है, लेकिन मैं कुछ अलग करना चाहता था। इसलिए, मैंने उसके लिए चांद पर जमीन खरीदी।’ धर्मेंद्र ने न्यूयॉर्क शहर, यूएसए (USA) की एक फर्म लूना सोसाइटी इंटरनेशनल के माध्यम से जमीन खरीदी। उन्होंने कहा कि इसे खरीदने की प्रक्रिया को पूरा होने में लगभग एक साल लग गया।

चांद पर जमीन खरीदने वाला राजस्थान का पहला आदमी

धर्मेंद्र का कहना है , ‘मुझे खुशी है। मुझे लगता है कि मैं चांद पर जमीन खरीदने वाला राजस्थान का पहला आदमी हूं।’ धर्मेंद्र की पत्नी सपना ने कहा कि उन्हें अपने पति से इस तरह के खास सरप्राइज की उम्मीद नहीं थी। सपना ने कहा, ‘मैं बेहद खुश हूं। मुझे कभी भी उम्मीद नहीं थी कि वह मुझे कुछ खास गिफ्ट करेंगे।

एनीवरसरी पर पार्टी का आयोजन प्रोफेशनल ऑर्गेनाइजर्स द्वारा किया गया था और डेकोरशन एकदम रियल महसूस करवा रही थी। ऐसा लग रहा था जैसे हम चंद्रमा पर हैं। समारोह के दौरान, उन्होंने उपहार के रूप में मुझे चांद पर जमीन के दस्तावेज दिए।’ कुछ महीने पहले, बोधगया के निवासी नीरज कुमार ने भी अभिनेता शाहरुख खान और स्वर्गीय सुशांत सिंह राजपूत से प्रेरित होकर अपने जन्मदिन पर चांद पर एक एकड़ जमीन खरीदी थी।

यह भी पढ़ें SCAM 1992 : हर्षद मेहता का छत्तीसगढ़ कनेक्शन, रायपुर में हुई थी पढ़ाई , पिता चलाते थे छोटी सी दुकान

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Back to top button