छत्तीसगढ़बिग ब्रेकिंगवारदात

काम दिलाने का झांसा देकर नाबालिग से 7 माह से गैंगरेप, तीन गिरफ्तार

रायपुर। भिलाई की नाबालिग लड़की को काम दिलाने का झांसा देकर नवा रायपुर में करीब सात माह से सामूहिक दुष्कर्म किया गया। इससे नाबालिग गर्भवती हो गई। इसके बाद आरोपी पीड़िता की दूसरी जगह शादी करने की तैयारी कर रहे थे। इस दौरान मामले का भंडाफोड़ हो गया। पीड़िता किसी तरह आरोपियों के चंगुल से भाग निकली और पुलिस में शिकायत की। राखी पुलिस ने तीन आरोपियों को गिरफ्तार कर लिया है। अपराध में इस्तेमाल कार को भी जब्त कर लिया है।

राखी थाना पुलिस के मुताबिक भिलाई के मरोदा इलाके में रहने वाली करीब १७ वर्षीया नाबालिग के माता-पिता नहीं है। वह झाड़ूपोंछा का काम करती थी। उतई के ही तीन युवक परस राम, तरुण और राजेश ने उसे नवा रायपुर में अधिक वेतन वाला काम दिलाने का झांसा दिया। और उसे 19 अप्रैल को कार में बैठाकर नवा रायपुर पहुंचे। शाम को अंधेरा हो जाने पर नवा रायपुर के सूनसान स्थान में तीनों ने नाबालिग के साथ सामूहिक दुष्कर्म किया।

बाद में घटना की जानकारी किसी को देने पर जान से मारने की धमकी देकर उसे घर छोड़ दिया। घटना से नाबालिग काफी डर गई थी। वह इसकी शिकायत किसी को नहीं कर पाई। इससे आरोपियों का हौसला और बढ़ गया। और नाबालिग को जबरदस्ती अपने साथ नवा रायपुर लेकर आने लगे। और अलग-अलग स्थानों में कार के भीतर ही दुष्कर्म करने लगे। एेसा कई बार हुआ। इससे वह गर्भवती हो गई।

ऐसी चंगुल से भागी पीड़िता
गर्भवती होने की जानकारी होते ही तीनों आरोपी नाबालिग को धमतरी ले गए और वहां किसी दूसरे से शादी कराने की बातचीत करने लगे। इस दौरान वहां मामले का खुलासा हो गया। और पीड़िता आरोपियों के चंगुल भाग निकली। इसके बाद 29 दिसंबर को राखी थाना पहुंची।

घटना की शिकायत के बाद राखी पुलिस ने मामले को गंभीरता से लेते हुए धारा 376 डी, 506, 34, पॉस्को एक्ट, 363 व 366 के तहत अपराध दर्ज किया। इसके बाद टीआई एए अंसारी और उनकी टीम ने आरोपियों की तलाश शुरू कर दी। तीनों आरोपियों को पुलिस ने बुधवार को गिरफ्तार कर लिया। सभी को जेल भेज दिया गया। पुलिस ने कार को भी जब्त कर लिया है।

आरोपियों को भेजा जेल, पीड़िता सखी सेंटर में
दुष्कर्म की शिकार पीड़ितासात की गर्भवती है। एेसे में उसकी समस्या बढ़ गई है। आरोपियों ने अप्रैल माह से लेकर 24 दिसंबर तक नवा रायपुर में कई जगह पीड़िता का शारीरिक शोषण किया। मामले के तीनों आरोपी जेल चले गए और गर्भवती पीड़िता को फिलहाल सखी सेंटर में रखा गया है।

काम दिलाने के नाम पर पीड़िता से सामूहिक दुष्कर्म किया गया है। पीड़िता की शिकायत पर आरोपियों के खिलाफ तत्काल एफआईआर दर्ज कर उनकी गिरफ्तारी की गई है। पीड़िता सात माह की गर्भवती है।
– एए अंसारी, टीआई, राखी, रायपुर

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Back to top button