गुप्तचर विशेषछत्तीसगढ़बिग ब्रेकिंगवारदात

घाटी से नीचे खाई में गिरा ट्राला, ड्राइवर-क्लीनर की दर्दनाक मौत, 9 घंटे से फंसी है लाश

प्रतापपुर. ओडिशा के झारसुगुड़ा (Odisha Road) से पाइप लोड कर पंजाब जा रहा ट्राला अंबिकापुर-बनारस मार्ग पर स्थित घाट पेंडारी में गुरुवार की सुबह खाई में पलट (Tralla fell in ditch) गया। हादसे (major road accident) में ड्राइवर व क्लीनर (Driver-cleaner death) की मौके पर ही दर्दनाक मौत हो गई, जबकि लिफ्ट लेकर केबिन में बैठे 2 लोग गंभीर रूप से घायल हो गए।

सूचना पर पुलिस मौके पर पहुंची और घायलों को अस्पताल भिजवाया। वहीं ड्राइवर व क्लीनर का शव निकालने काफी मशक्कत की गई लेकिन 9 घंटे से भी अधिक समय तक उनका शव (Dead body) नहीं निकाला जा सका। मौके पर क्रेन मंगाकर शव निकालने की मशक्कत देर शाम तक जारी रही।

गौरतलब है कि अंबिकापुर-बनारस (Ambikapur banaras road) मार्ग पर संभाग मुख्यालय से 60 किमी दूर घाट पेंडारी स्थित है। इस घाट पर आए दिन भारी व अन्य चारपहिया वाहन हादसे का शिकार होते हैं। घाट पर मोड़ इतना संकरा है कि वाहन कई मौकों पर वाहन अनियंत्रित होकर सीधा 50-100 फीट गहरी खाई में गिर जाता है।

Accident News
Accident NewsAccident News

इसी कड़ी में यहां एक और हादसा हो गया। ट्राला क्रमांक पीबी 11 सीबी- 2292 झारसुगुड़ा ओडिशा से पाइप लेकर लुधियाना पंजाब (Punjab) जा रहा था। गुरुवार की सुबह करीब 8 बजे वह घाट पेंडारी (Ghat pendari) को पार कर रहा था।

मुख्य टर्निंग को पार करने के बाद अचानक ट्राला खाई में गिर गया। हादसे में ड्राइवर व क्लीनर की मौके पर ही दर्दनाक मौत हो गई, जबकि गंभीर रूप से घायल हनी किसी तरह ट्राला व खाई से बाहर निकला।

हादसे की जानकारी लगते ही चंदौरा थाना प्रभारी बाजीलाल सिंह, एएसआई रामसिंह, प्रधान आरक्षक केश्वर राम मरावी, रवि शंकर चौबे, आरक्षक रामप्यारे व अन्य स्टाफ के साथ मौके पर पहुंचे। पुलिस ने मौके पर क्रेन बुलाया और ड्राइवर-क्लीनर का शव तथा एक अन्य घायल को निकालने की कवायद शुरु की गई।

काफी मशक्कत के बाद घायल संदीप बद्दन को बाहर निकाला जा सका। इसके बाद पुलिस ने दोनों घायलों को एम्बुलेंस से सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र प्रतापपुर भेज दिया, जिनका इलाज जारी है।

ड्राइवर-क्लीनर का नहीं निकला शव
इधर पुलिस द्वारा ट्राला में फंसे ड्राइवर व क्लीनर का शव निकालने काफी मशक्कत की गई लेकिन शाम 5 बजे तक इसमें उन्हें कामयाबी नहीं मिली। बताया जा रहा है कि दोनों का शरीर बुरी तरह दब गया है। ऐसे में दोनों के नाम व पता की जानकारी भी नहीं मिल सकी है।

घायलों ने पंजाब जाने के लिए लिया था लिफ्ट
दुर्घटनाग्रस्त ट्राला में ड्राइवर व क्लीनर समेत 4 लोग सवार थे। घायल हनी और संदीप बद्दन झारसगुड़ा की पाइप फैक्ट्री में थे। वे इस ट्राला से संबंधित नहीं थे और पंजाब अपने घर जाने ड्राइवर से लिफ्ट मांगी थी। इस दौरान वे भी हादसे में घायल हो गए।

जाम लगे होने के कारण हुआ हादसा
गौरतलब है कि एक ट्राला के कारण घाट पेंडारी में कई घंटों से जाम लगा था। घायल हनी ने बताया कि हम घाट से उतर रहे थे, रास्ते में किनारे एक ट्राला खड़ा था और सामने से बस आ रही थी।

दोनों वाहनों से टकराने के डर से ड्राइवर ने स्टेयरिंग मोड़ दी और ट्राला अनियंत्रित होकर खाई में गिर गया। प्रत्यक्षदर्शियों के अनुसार किनारे खड़े ट्राला के कारण ही दुर्घटना हुई।

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Back to top button