गुप्तचर विशेषबिग ब्रेकिंगभारतवारदात

तमिलनाडु फैक्ट्री हादसे पर पीएम ने जताया दुःख, पीड़ितों के लिए मुआवजे की घोषणा

दिल्ली: तमिलनाडु के विरूधुनगर में उस वक्त हडकंप मच गया जब एक पटाखा फैक्ट्री में अचानक भीषण आग लग गई। आग इतनी भयानक थी की उसमें 11 लोगों की झुलस कर मौत हो गई। इस दौरान घटना की जानकारी मिलते ही फायर टेंडर मौके पर पहुंच आग को बुझाने की कोशिश कर रहें है। हादसे की जानकारी मिलते ही प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने दुःख प्रकट करते हुए एक ट्वीट किया है।

यह भी पढ़े : सपा नेता के होटल में चल रहा था देह व्यापार का धंधा, ऑन डिमांड बुलाई जाती थी विदेशी युवतियां

कैसे लगी आग
एजेंसी से मिली जानकारी के अनुसार तमिलनाडु के विरुधुनगर की एक पटाखा फैक्ट्री में शुक्रवार को भीषण आग लगने से अफरा-तफरी का महौल बन गया है। एजेंसी से प्राप्त जानकारी के अनुसार फैक्ट्री में पटाखों को तैयार करते वक्त कुछ कैमिकल्स को मिलाने की वजह से यह हादसा हुआ। इस हादसे में 11 लोगों की जान चली गई है। बताया जा रहा है कि मरने वालों की संख्या में इजाफा हो सकता है। 15 से अधिक लोगों के घायल होने की बात सामने आ रही है। इस दौरान स्थानीय लोगों ने पुलिस को घटना की जानकारी दी व फायर टेंडर मौके पर पहुंच कर आग पर काबू करने की कोशिश में लग गए।

यह भी पढ़े : पूर्व CJI गोगोई ने तोड़ी चुप्पी … क्या अयोध्या और राफेल फैसले के बदले मिली राज्यसभा सीट?

tamil nadu
tamil nadu


प्रधानमंत्री ने ट्वीट किया

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने इस पूरी घटना पर दुःख प्रकट किया है। पीएमओ के ऑफिशियल अकाउंट की तरफ से ट्वीट किया गया है कि तमिलनाडु के विरुधुनगर में स्थित एक पटाखा फैक्ट्री में आग लगने की यह घटना बेहद दुखद है। दुःख की इस घड़ी में, मेरी संवेदनाएं पीड़ित परिवारों के साथ हैं। मुझे उम्मीद है कि जो लोग घायल हुए हैं, वो जल्द ही ठीक हो जाएंगे। प्रभावित लोगों की मदद के लिए अधिकारी काम कर रहें हैं। वहीं दूसरे ट्वीट के माध्यम से मिली जानकारी के अनुसार तमिलनाडु के विरुधुनगर में आग लगने से जान गंवाने वालों के परिजनों के लिए पीएमआरएफ की ओर से 2लाख रुपए की अनुग्रह राशि स्वीकृत की गई है। वहीं गंभीर रूप से घायल लोगों को 50,000 रुपये दिए जाएंगे।

यह भी पढ़े : जेल से अश्लील वीडियों हुआ वायरल, विभाग में मची खलबली

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Back to top button