गुप्तचर विशेषबिग ब्रेकिंगसियासत

अब ग्रेटा थनवर्ग के निशाने पर नासा

आपको बता दें, ग्रेटा थनवर्ग स्वीडन में एनवायरनमेंट कार्यकर्ता है। उन्होंने नासा के मंगल मिशन के ऊपर अपने विचार प्रस्तुत किए हैं जिसमें उनका कहना है, कि हमारी पृथ्वी पहले ही जलवायु परिवर्तन जैसी समस्याओं से जूझ रही है। तो वहीं दुनिया के अमीर देश दूसरे ग्रह पर यात्रा करने में पैसा बर्बाद क्यों कर रहे हैं।

ग्रेटा थनबर्ग कुछ दिन पहले भारत में किसानों के आंदोलन के टूल किट को शेयर करने के लिए चर्चा में बनी हुई थी। किंतु अब नासा के इस मंगल मिशन पर अपना गुस्सा जाहिर कर रही हैं। उन्होंने कहा कि जब हमारी पृथ्वी जलवायु परिवर्तन जैसी समस्याओं का सामना कर रही है तब सरकारें और अंतरिक्ष एजेंसियां दूसरे ग्रह पर जाने के लिए अरबों रुपए खर्च क्यों कर रही है। ग्रेटर ने नासा के मंगल मिशन को लेकर ताना मारते हुए एक वीडियो भी साझा किया है इस वीडियो के माध्यम से उन्होंने दिखाया कि मंगल ग्रह एक ऐसा प्लेस है जिसकी सतह को किसी ने छू नहीं पाया है।

आपको बता दें कि नासा ने परसवेरेंस रोवर पर $70 करोड़ डॉलर खर्च किए हैं। यह मंगल की सतह पर जाने के लिए तैयार किया गया है। यह रोवर मंगल पर जाकर वहां से संबंधित इंफॉर्मेशन को इकट्ठा करेगा। और इससे मिलने वाली जानकारी से मंगल पर इंसानों को भेजने का माध्यम खोजा जाएगा।

बताया जा रहा है कि इस रोवर में MOXIE नाम की एक डिवाइस लगाई गई है, जो मंगल ग्रह पर ऑक्सीजन पैदा करने में मदद करेगी।

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Back to top button