हेल्थ

नाचा के बहुमुखी प्रतिभा के धनी स्व.विजय डड़सेना को भावभीनी श्रद्धांजली

नाचा के बहुमुखी प्रतिभा के धनी स्व.विजय डड़सेना को भावभीनी श्रद्धांजली

गुप्तचर/विक्रम

रायपुर/बिछड़े कुछ इस अदा से कि रुत ही बदल गई, इस शख़्स ने सारे शहर को वीरान कर दिया।
हमें अत्यंत दुःख के साथ सूचित करना पड़ रहा है कि श्री विजय डड़सेनाजी( ४५ वर्ष) का ०१ मार्च, सोमवार दोपहर १२:०५ मिनट शिकागो समायनुसार निधन हो गया है।
श्री विजय डड़सेना स्व. लक्ष्मण दड़सेना एवं श्रीमती उषा डड़सेना के द्वितीय सूपुत्र थे। उनका जन्म सितम्बर ८, १९७५, रायपुर में हुआ था।
वे बचपन से ही होनहार एंव प्रतिभाशाली थे। उनकी प्रारंभिक शिक्षा रायपुर से हुई और computer engeenering उन्होंने इंदौर के SGSITS से पूरी की थी। कॉलेज के दिनो में उन्होंने अपनी अलग पहचान बनाई थी।उन्हें संगीत से काफ़ी लगाव था और इसी शौक़ के कारण वे नाचा में राक्स्टार( rockstar) के रूप में जाने जाते थे। छत्तीसगढ़ी एवं हिंदी गानो के उनकी गहन रुचि थी।विजय नाचा के सक्रिय सदस्य थे और नाचा के सभी कार्यक्रम में उनका सराहनीय योगदान रहता था। नाचा बनाने की नीव से उसके विस्तार के लिये वे सदैव तैयार रहते थे।२०१९ में हुए नाचा के पहले अंतर्रष्ट्रीय सम्मेलन में उन्होंने ने सहसंचालक की भूमिका निभाई थी।पिछले साल फ़रवरी २०२० हमारे माननीय मुख्यमंत्री श्री भूपेश बघेलजी के अमेरिका प्रवास के दौरान विजय और उनके मित्रों द्वारा दो गई प्रस्तुति ने सबका मन मोह लिया था।वे उनकी नाचा में अंतिम मगर ना भूलने वालें पल थे।
शिकागो में वे अपनी पत्नी श्रीमती वंदना डड़सेना , सुपुत्री वेन्या (१२ वर्ष) एवं सूपुत्र व्यान (८ वर्ष) के साथ १५ साल से रह रहे थे।वे एक आज्ञाकारी पुत्र, अच्छे पति , आदर्श पिता और मिलनसार मित्र थे।
उनका सरल,साधारण स्वभाव व निष्पक्ष व्यक्तित्व ही उन्हे सबसे अलग बनाती थी।
आज वे हमारे बीच नहीं रहे मगर उनकी यादें हमेशा हमारे दिलो में ज़िंदा रहेगी।
उन्हें नाचा के सभी सदस्यों एवं मित्रों की तरफ़ से नम आँखों से नमन।ॐशांति

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Back to top button