गुप्तचर विशेषछत्तीसगढ़मेडिकलहेल्थ

छत्तीसगढ़: 1 साल के बच्चे के गले मे फंसा चना, डॉक्टरों ने गले में छेद कर निकाला बाहर

अम्बिकापुर| एक वर्षीय बच्चे के गले मे फंसे चना को ऑपरेशन से निकाला गया। अम्बिकापुर में गुरुवार को मेडिकल कालेज (अम्बिकापुर) के चिकित्सको ने एक वर्षीय बच्चे के गले मे फंसे चना को ऑपरेशन के द्वारा बाहर निकाल बच्चे को नया जीवन दिया है।

मिली जानकारी के अनुसार लुण्ड्रा विकासखण्ड के ग्राम उदारी के एक वर्षीय बालक आयुष के गले मे चना फंस गया था जिससे उसकी स्थिति गंभीर हो गई  थी।

आयुष को 6 मार्च को मेडिकल कालेज अस्पताल के शिशु रोग विभाग में भर्ती कराया गया था चिकित्सको ने उसकी स्थिति को देखते हुए उच्च संस्थान में ईलाज के लिए रेफर किया।

बच्चे के अभिभावक उसे शहर के ही एक निजी अस्पताल ले गए लेकिन वहां ईलाज नही होने पर 10 मार्च को शाम 5 बजे पुनः बच्चे को  मेडिकल कालेज अस्पताल ले आये।

मेडिकल कालेज अस्पताल के इएनटी विभाग के डॉ उषा अमरो, डॉ हरवंश एवं डॉ आयुष गुप्ता के द्वारा 10 मार्च को ही रात्रि में  ब्रोंकोस्कोपी एवं ट्रेकियोस्टॉमी करके ( गले मे छेद कर) गले मे फसे चने को बाहर निकाला गया । बच्चे की हालत स्थिर है और वह शिशुवार्ड में चिकित्सकों की देख-रेख में भर्ती है।

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Back to top button