गुप्तचर विशेषछत्तीसगढ़बिग ब्रेकिंगवारदातसियासतहेल्थ

छत्तीसगढ को नशे में झौककर कर रहे हैं नशा मुक्त प्रदेश का विज्ञापन -विक्रम प्रधान भाजपा ओबीसी मीडिया प्रभारी

छत्तीसगढ को नशे में झौककर कर रहे हैं नशा मुक्त प्रदेश का विज्ञापन -विक्रम प्रधान भाजपा ओबीसी मीडिया प्रभारी

रायपुर / एक तरफ छत्तीसगढ़ सरकार की महिला मंत्री का चौक चौराहे पर विज्ञापन दिखता है की प्रदेश को नशा मुक्त करना है। और दूसरी तरफ सरकार धड़ल्ले से नशे का सामान बेच रही है ।बात शराब तक ही नहीं है आए दिन गांजे के तस्कर और भी बहुत से सामान शहर में बिक्री का केंद्र बने हुए हैं ।सरकार की क्या मंशा है यह सरकार ही जाने पर भोली-भाली जनता के सामने विज्ञापन का ढोंग रचा कर क्या करना चाहती है ,समझ से परे है ।
माननीय महिला मंत्री अनिला भेड़िया जी का एक होडिंग हमने देखा है जो बीच स्टेशन रोड फाफाडीह चौक पर लगा हुआ है ।आउस विज्ञापन में यह बात साफ लिखा है कि प्रदेश को नशा मुक्त करना है ,क्या विज्ञापन लगाने से प्रदेश नशा मुक्त हो जाएगा क्या प्रदेश के मंत्रियों को यह बात मालूम नहीं की शराब गांजा जैसे खतरनाक नशे सामग्री सरकार खुद पब्लिक को उपलब्ध करा रही है। छोटे-छोटे उनके कोचिये शहर के बस्ती नुमा इलाकों में जो रोजमर्रा की मजदूर की कमाई खा जाते है। मजदूर उसे नशे में उड़ा देता है ना कितने कोचिये सक्रिय हैं, उन्हें किसी प्रकार का भय नहीं है ।
शासन प्रशासन उनके सपोर्ट पर लगे हुए हैं  यह बात बिल्कुल लाजमी है कि जब तक बड़े नेताओं का हाथ है उनका बाल भी बांका नहीं होगा ।और इसी विश्वास के साथ वह लोग अपना काम करते आ रहे हैं,कभी नेहरु नगर  कालीबाड़ी चौक मैं गांजे का तस्कर पकड़ा जाता  है मामला रफा-दफा हो जाता है 4 दिन पेपर की हेडलाइन बनता है न्यूज़ चैनल में दिखाया जाता है फिर वह समाचार अपने आप विलुप्त हो जाता है। गली चौराहे बस्ती नुमा इलाको में  शराब की बिक्री  खुलेआम धड़ल्ले से हो रही है लेकिन प्रशासन के लोग आंख और कान बंद करके अपना काम कर रहे हैं ,पब्लिक के साथ खिलवाड़ किया जा रहा है क्या माननीय मंत्री अनिला भेड़िया जी को यह मालूम नहीं है उनकी ही सरकार एक तरफ शराबबंदी का दावा करके जनता के सामने झूठे वादे करके अपने पोर्टफोलियो में यह बात लिख कर के आज तक शराबबंदी नहीं करवा पाई है ।लाखों रुपए का विज्ञापन देकर के जनता के सामने भोली भाली बन रही है।

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Back to top button