छत्तीसगढ़मेडिकल

रायपुर के 58 चिकित्सालयों और स्वास्थ्य केन्द्रों में कोरोना टेस्ट और टीकाकरण शुरू

रायपुर| रायपुर जिले में 58 चिकित्सालय और केन्द्रों में कोरोना के जांच और निःशुल्क वैक्सीन लगाने की व्यवस्था की गई है। कलेक्टर डाॅ एस. भारतीदासन और मुख्य चिकित्सा अधिकारी डाॅ मीरा बघेल ने सभी संबंधितों से अपील है कि वे अपना फोटो पहचान पत्र दिखाकर किसी भी कोविड टीकाकरण केन्द्र में कोविड टीकाकरण लगवा सकते हैं।

ये चिकित्सालय है अखिल भारतीय आयुर्विज्ञान संस्थान (एम्स), पं. जे.एन.एम. मेडिकल कॉलेज, सामुदायिक भवन, पुलिस लाइन ग्राउंड, पुलिस प्रशिक्षण केंद्र, माना, शहीद स्मारक भवन, रजबंधा, आयुर्वेदिक कॉलेज, जी.ई. रोड़, जिला चिकित्सालय पंडरी, सिविल अस्पताल, माना, रेलवे मंडल अस्पताल, श्री भोला कुर्मी धर्मशाला, आजाद चैक, हमर अस्पताल, गुढ़ियारी, हमर स्वास्थ्य केंद्र, भाठागांव, सियान सदन, गुढ़ियारी,, आश्रय स्थल, मोवा, मितान भवन, भनपुरी, संत रविदास भवन, काशीराम नगर,  हेल्थ एण्ड वेलनेस सेंटर, बहेसर, 10 बिस्तर अस्पताल, इन्द्रावती भवन, नया रायपुर तथा शहरी प्राथमिक स्वास्थ्य केंद्र, खोखोपारा, डी.डी. नगर, मठपुरैना, राजातालाब, कचना, आमासिवनी, देवपुरी, लाभांडी, खैरखंट, परसदा, उरला, बोरियाकला, हीरापुर, चंगोराभाठा।

इसी तरह सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र, अभनपुर, गोबरा नवापारा, तिल्दा, सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र, आरंग, राखी, बीरगांव, खरोरा, प्राथमिक स्वास्थ्य केंद्र, ऊपरवारा, खिलोरा, तोरला, मानिकचैरी, खोरपा, चम्पारण, सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र, धरसींवा, दोंदेकला, मांढर, सिलयारी, भानसोज, रीवा, कुरुद कुटेला, चंदखुरी, मंदिरहसौद, फरफौद, बंगोली, गोगांव, श्री भोला कुर्मी धर्मशाला, रामनगर में भी कोरोना की जांच और टीकाकरण की निःशुल्क व्यवस्था है।

उल्लेखनीय है कि 60 वर्ष से अधिक के वरिष्ठ नागरिक के अलावा 45 वर्ष से अधिक आयु के गंभीर मरीजों का कोविड टीकाकरण किया जा रहा है। टीकाकरण के लिए 45 वर्ष से 59 वर्ष के मध्य वाले नागरिकों को न्यूनतम एम.बी.बी.एस वाले डाक्टर का निर्धारित प्रारूप में प्रमाण पत्र उपलब्ध कराना होगा। नागरिक आधार कार्ड, वोटर आई डी कार्ड, पासपोर्ट, ड्राइविंग लाइसेंस,एन.पी.आर कार्ड, पेंशन दस्तावेज में कोई एक दस्तावेज लाकर टीकाकरण करवा सकता है। इस संबंध में अधिक जानकारी के लिए इस नं 7869019063 में सुबह 8 बजे से रात 8 बजे तक संपर्क किया जा सकता है।

अगर किसी भी नागरिक को सर्दी, खांसी, बुखार, साँस लेने में कठिनाई या स्वाद व सूंघने की क्षमता का अभाव हो या कमी हो, तो उसे तत्काल कोरोना की निःशुल्क जाँच करानी चाहिए। उल्लेखनीय है कि छत्तीसगढ़ के रायपुर में पिछले कुछ दिनों में कोरोना का नया लक्षण सामने आया है। इसमें प्रभावित व्यक्ति को एकाएक बेहद कमजोरी लगती है लेकिन उन्हें सर्दी या बुखार आदि नहीं आता है, ऐसे में व्यक्ति कोरोना की जांच नहीं कराता और स्थिति एकदम गंभीर होने पर जांच या ईलाज के लिए आता है। ऐसे लक्षण में भी कोरोना की जांच कराने की सलाह दी गई है। इस संबंध में निकटतम स्वास्थ्य केंद्र जाएं अथवा निःशुल्क हेल्पलाइन नंबर -104 पर संपर्क किया जा सकता है।

यह भी बेहद जरूरी है कि कोरोना से बचाव के लिए मास्क लगाए, 6 फीट की शारीरिक दूरी बनाए रखे और कोविड अनुरूप व्यवहार को अपनाए। एम्स, मेडिकल काॅलेज, जिला चिकित्सालाय, सहित माना, लालपुर और आर्युवेदिक काॅलेज हास्पिटल आदि में कोरोना के ईलाज की व्यापक व्यवस्थाएं की गई है।

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Back to top button